मागेल त्याला शेततळे योजना 2021 | Maharashtra Magel Tyala Shettale Yojana 2021 | Registration Process

0
1666
Maharashtra Magel Tyala Shettale Yojana 2021
Maharashtra Magel Tyala Shettale Yojana 2021

मागेल त्याला शेततळे योजना 2021 (Maharashtra Magel Tyala Shettale Yojana 2021)

महाराष्ट्र सरकार ने मागेल त्याला शेततळे योजना 2020” का आगमन पानी तथा खेती के लिए भूमि प्रदान करने हेतु किया है। जो किसान खेती करते हैं, परंतु उनके पास पानी का स्थाई स्रोत नहीं है। उन किसानों को इस योजना के अंतर्गत स्थाई स्रोत उपलब्ध करवाया जाएगा ताकि सिंचाई के वक्त उन्हें कोई परेशानी ना आए।

वैसे तो इस योजना की शुरुआत 9 फरवरी, 2016 को महाराष्ट्र में की गई थी, परंतु अब 2020 में इस योजना में कुछ तब्दीलियां की गई है। राज्य के हर एक किसान को इस योजना का लाभ पहुंचाने के लिए राज्य सरकार ने 204 करोड का बजट तय किया है। योजना के तहत मिलने वाली राशि सीधे किसानों के खाते में जमा करवा दी जाएगी। इस योजना के अनुसार हर खेत में पॉन्ड प्रोजेक्ट  शुरू किए जाएंगे। जो भी किसान अपने खेत में पॉन्ड बनवाना चाहते हैं, उन्हें इस योजना के लिए आवेदन करने की सुविधा प्रदान की जाएगी।

मागेल त्याला शेततळे योजना 2021 का उद्देश्य (Maharashtra Magel Tyala Shettale Yojana 2021: Objectives)

गरीब किसान सिंचाई के लिए अस्थाई जल स्रोतों पर निर्भर है। उन्हें स्थाई जल स्रोत उपलब्ध करवाना तथा पॉन्ड प्रोजेक्ट के तहत तालाब बनवाने के लिए वित्तीय राशि प्रदान करना, इस योजना का मुख्य उद्देश्य है। इस योजना के अंतर्गत लगभग 51,369 खेतों में पॉन्ड बनाए जाएंगे।

मागेल त्याला शेततळे योजना 2021 के लाभ (Maharashtra Magel Tyala Shettale Yojana 2021: Benefits)

  • गांव में रहने वाले किसान इस योजनाके अंतर्गत लाभ प्राप्त करके स्थाई सिंचाई स्त्रोत प्राप्त कर पाएंगे।
  • किसानों को दूरदराज के क्षेत्रों में जाकर सिंचाई के लिए जल का प्रबंध नहीं करना पड़ेगा।
  • कई किसान जो सिंचाई के लिए बारिश पर निर्भर करते थे, उनको इस योजना के अंतर्गत काफी लाभ पहुंचेगा।
  • बारिश पर निर्भर करने वाले किसानों को कई बार काफी परेशानियां झेलनी पड़ती थी। कई बारी ज्यादा बरसात से फसल खराब हो जाती थी और कभी कम बारिश की वजह से सूखा पड़ जाता था। ऐसे में यह योजना उन किसानों को इन समस्याओं से निजातदिलवाएगी।
  • इस योजना के अनुसार लाभार्थी को जो राशि प्रदान की जाएगी, वह सीधे ही उसके बैंक खाते में जमा करवा दी जाएगी।

मागेल त्याला शेततळे योजना 2021 का लाभ लेने के लिए जारी किए गए दिशा-निर्देश (Maharashtra Magel Tyala Shettale Yojana 2021: Guidelines)

  • जिन किसानों के पास कम से कम 60 हेक्टेयर जमीन है, उनको इस योजना के अंतर्गत लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • सभी वर्गों के किसानों के लिए यह योजना बनाई गई है।
  • इस योजना का लाभ केवल उन्हीं किसानों को मिलेगा जो योजना के अंतर्गत रजिस्ट्रेशन कर लेंगे।
  • यह योजना केवल महाराष्ट्र के मूल निवासी किसानों के लिए ही है, अन्य राज्य के किसान इस योजना के अंतर्गत वित्तीय सहायता प्रदान प्राप्त नहीं कर सकते।
  • केवल किसान ही इस योजना के अंतर्गत राशि प्राप्त कर सकते हैं, अन्य व्यवसाय करने वाले तथा अन्य उद्योग चलाने वाले महाराष्ट्र निवासी योजना के अंतर्गत कोई भी लाभ प्राप्त नहीं कर सकते।
  • जो भीकिसान इसके तहत लाभ प्राप्त करना चाहता है, उसके पास अपना बैंक खाता होना अनिवार्य है।

मागेल त्याला शेततळे योजना 2021 आवश्यक दस्तावेज (Maharashtra Magel Tyala Shettale Yojana 2021: Required Documents)

  • आधार कार्ड
  • मूलनिवासी पहचान पत्र
  • खेत का ब्यौरा तथा खेत के कागजात
  • बैंक पासबुक
  • मोबाइल नंबर

मागेल त्याला शेततळे योजना 2021 पंजीकरण प्रक्रिया (Maharashtra Magel Tyala Shettale Yojana 2021: Registration Process)

इस योजना के तहत पंजीकरण करवाने के लिए किसानों को निम्नलिखित  कदम उठाने होंगे।

  • ऑफिशियल वेबसाइट https://egs.mahaonline.gov.in/Registration/Registration.पर जाना होगा।
  • ऑफिशियल वेबसाइट पर जाते ही रजिस्ट्रेशन करने के लिए एप्लीकेशन फॉर्म दिख जाएगा।
  • इस एप्लीकेशन फॉर्म में सारी जानकारी भरने के उपरांत “submit” के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • सबमिट के बटन पर क्लिक करते ही एप्लीकेशन फॉर्म जमा हो जाएगा।
  • रजिस्ट्रेशन के दौरान जोयूज़र आईडी तथा पासवर्ड आवेदक को प्राप्त होगा, उसका इस्तेमाल आवेदक अपना अकाउंट दोबारा चेक करने हेतु कर सकता है।
  • अपने आवेदन की स्थिति चेक करने के लिए भी वह इसी यूज़र आईडी तथा पासवर्ड का इस्तेमाल कर सकता है।

एप्लीकेशन स्टेटस चेक करना

एप्लीकेशन स्टेटस चेक करने से पता चल जाता है कि आवेदकइस योजना के लिए मान्य है या नहीं अर्थात इस योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त होगा या नहीं स्टेटस चेक करने के लिए निम्नलिखित स्टेप्स फॉलो करने होंगे।

  • ऑफिशियल लिंक पर जाने के उपरांत Track status of shettae scheme” पर क्लिक करना होगा।
  • ट्रेक स्टेटस पर क्लिक करते ही आवेदक को अपने आवेदन की स्थिति दिखाई देने लग जाएगी।

महाराष्ट्र सरकार द्वारा शुरू की गई है योजना उन किसानों को बहुत  लाभ पहुंचाएगी; जिनके पास सिंचाई के लिए उचित जल स्रोत उपलब्ध नहीं है। जब उन किसानों को यह जल स्रोत उपलब्ध हो जाएंगे। तब आसानी से खेती कर पाएंगे और इसका पूरा लाभ उठा पाएंगे। उनकी आमदनी में भी बढ़ोतरी होगी क्योंकि बारिश पर निर्भर करने वाले किसान सही समय पर अपनी फसल को सींच नहीं पाते थे। जिसकी वजह से फसल की गुणवत्ता में कमी आ जाती थी; परंतु अब इस योजना के तहत जब किसानों को स्थाई जल स्रोत उपलब्ध हो जाएंगे। तब उन्हें सिंचाई में कोई समस्या नहीं आएगी और फसल की गुणवत्ता भी बढ़ जाएगी। जिसका सीधा असर उनकी आय पर पड़ेगा,कोई रुकावट नहीं होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here