बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2021 | Bihar Fasal Sahayata Yojana 2021

0
775
Bihar Fasal Sahayata Yojana
Bihar Fasal Sahayata Yojana

बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2021 (Bihar Fasal Sahayata Yojana 2021) 

बिहार सरकार ने बिहार में रहने वाले किसान लोगों की सहायता के लिए कई प्रकार की योजनाएं बनाई है ताकि उन्हें किसी भी प्रकार की समस्या ना आए और वह अपने कार्य में बिना रुकावट के मगन रहे। इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए बिहार राज्य फसल सहायता योजना नामक एक योजना शुरू की गई। बिहार में रहने वाले किसानों के लिए इस योजना को आरंभ किया गया

बिहार राज्य फसल सहायता योजना की घोषणा

बिहार राज्य फसल सहायता योजना की घोषणा बिहार राज्य के माननीय मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी द्वारा 2018 में की गई थी। इस योजना को घोषित करने का प्रयोजन किसानों को फसल के लिए सहायता प्रदान करना और उनकी आर्थिक सहायता करके उन्हें खेती में आने वाली समस्याओं से निजात दिलवाना था। इसीलिए माननीय मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी ने बिहार राज्य फसल सहायता योजना को घोषित किया और इस सहायता की मदद से कई किसानों की आर्थिक सहायता की गई, जो अभी भी निरंतर जारी है।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2021 का बजट (Bihar Fasal Sahayata Yojana 2021: Budget)

बिहार राज्य फसल सहायता योजना राज्य सरकार द्वारा आयोजित की गई है, इसीलिए इस योजना का बजट राज्य सरकार द्वारा ही तय किया गया है। बिहार राज्य फसल सहायता योजना का बजट 260.64 करोड़ तय किया गया है। इसके अतिरिक्त यदि और सहायता की आवश्यकता पड़ेगी तो इस बजट को आगे बढ़ाने का प्रावधान भी बनाया गया है।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2021 का उद्देश्य (Bihar Fasal Sahayata Yojana 2021: Object)

किसी भी प्रकार की आपदा जैसे कि बाढ़, सूखा या खेतों में आग लग जाना और कई अन्य प्रकार की आपदाएं जिनकी वजह से किसानों की फसल बर्बाद हो जाती है और आर्थिक तौर पर किसानों की स्थिति और भी कमजोर हो जाती है, इसी समस्या के समाधान के लिए बिहार राज्य फसल सहायता योजना शुरू की गई। आपदा आ जाने पर राज्य सरकार समय पर किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान कर पाए, यही इस योजना का मुख्य लक्ष्य है।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2021 के लाभ (Bihar Fasal Sahayata Yojana 2021: Benefits)

प्राकृतिक तथा गैर प्राकृतिक आपदा

इस योजना के अंतर्गत पंजीकृत किसानों को फसल पर किसी भी प्रकार की प्राकृतिक या गैर प्राकृतिक आपदा की वजह से फसल के नुकसान होने पर वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।

प्रभावित सुशील तथा अनुदान राशि सहायता राशि

फसल का 20% नुकसान होने पर कर सकते और प्रति हेक्टेयर के हिसाब से किसानों को ₹75,000 की सहायता प्रदान की जाएगी।

20% नुकसान होने पर प्रति हेक्टेयर के हिसाब से ₹10,000 की सहायता प्रदान करने के बारे में अभी विचार किया जा रहा है।

योजना के तहत मिलने वाली राशि का वितरण

इस योजना के अंतर्गत जो भी किसान पंजीकरण करवाते हैं, उनको मिलने वाली सहायता राशि सीधे उनके बैंक खाते में जमा करवाई जाती है। किसानों को बैंक के चक्कर नहीं काटने पड़ते और ना ही विभागीय अधिकारियों के पास जाकर राशि के लिए आग्रह करना पड़ता है।

किसानों को प्रोत्साहन

किसी भी आपदा के कारण फसल खराब होने पर किसानों को जब वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी, तो इससे उनका मनोबल बढ़ेगा, किसानों को बिना किसी परेशानी के खेती करने की प्रेरणा मिलती रहेगी।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2021 के आवेदन की पात्रता (Bihar Fasal Sahayata Yojana 2021: Eligibility)

बिहार निवासी / बिहार में रहने वाले किसान

इस योजना के तहत केवल बिहार में रहने वाले किसानों को ही आवेदन करने की अनुमति दी गई है। बिहार में  स्थाई तौर पर रहने वाले किसानों को अपने मूलनिवासी पहचान पत्र जमा करवाना अति आवश्यक है।

आधार कार्ड

बिहार राज्य फसल सहायता योजना के तहत आवेदन करने के लिए आवेदक के पास आधार कार्ड होना भी आवश्यक है। आधार कार्ड ना होने की सूरत में आवेदक आवेदन नहीं कर पाएंगे।

बैंक खाता

आवेदक के पास अपना बैंक खाता होना भी आवश्यक है क्योंकि मिलने वाली राशि आवेदक के बैंक खाते में ही ट्रांसफर की जाएगी। यदि आवेदक के पास अपना बैंक खाता ना हो तो इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए उन्हें पहले बैंक में अपना खाता खुलवाना होगा।

खेती आधारित दस्तावेज

खेती आधारित सारे दस्तावेज जैसे की जमाबंदी, इंतकाल, रजिस्ट्री, जमीन की रसीद, दस्तावेज आवेदक के पास होने आवश्यक हैं। अपने खेत से जुड़ी हुई सारी जानकारी आवेदक को इस योजना के लिए आवेदन करते वक्त देनी होगी, तभी वह इस योजना के तहत आवेदन कर पाएंगे।

पासपोर्ट साइज फोटो

आवेदक के पास पासपोर्ट साइज फोटो होनी भी जरूरी है और उस फोटो को अपलोड करने के लिए कुछ गाइडलाइंस निर्धारित की गई है, उन गाइडलाइंस के अनुसार ही पासपोर्ट साइज फोटो अपलोड करनी होती है।

जन्म प्रमाण पत्र

इस योजना के अंतर्गत जो भी किसान आवेदन करना चाहते हैं। उन्हें अपना जन्म प्रूफ भी जमा करवाना अनिवार्य है।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2021 दस्तावेजों के लिए जारी की गई गाइडलाइंस (Bihar Fasal Sahayata Yojana 2021: Guidelines)

दस्तावेज जमा करते वक्त कुछ हिदायतें दी गई हैं, जिनका पालन करना जरूरी है यदि उन्हें हिदायतों का पालन ना किया जाए तो दस्तावेज रजिस्ट्रेशन फॉर्म में अपलोड नहीं होंगे। उन हिदायतों का वर्णन निम्नलिखित प्रकार है।

आवेदक की पासपोर्ट साइज फोटो 50 Kb से कम होनी चाहिए।

जो भी मूल निवासी पहचान पत्र अपलोड किए जाएंगे, वह सरकारी अधिकारियों द्वारा सत्यापित होने चाहिए। पहचान पत्र पीडीएफ की फॉर्म में ही अपलोड करने होंगे और उस पीडीएफ फाइल का साइज़ 400kb से कम होना चाहिए।

बैंक पासबुक भी पीडीएफ की  फॉर्म में ही अपलोड होगी, इसका साइज भी 400kb से कम होना जरूरी है।

आवासीय प्रमाण पत्र का साइज भी 400kb से कम होना चाहिए और और पीडीएफ फॉर्म में होना चाहिए।

भूमि से आधारित जो भी फाइल जमा करवानी है, उसका साइज 1 Mb से कम होना चाहिए।

जमीन की रसीद का साइज भी 1 एमबी से कम होनी चाहिए।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2021 आवश्यक दस्तावेज (Bihar Fasal Sahayata Yojana 2021: Required Documents)

  • आधार कार्ड
  • मूलनिवासी पहचान पत्र
  • एज प्रूफ
  • जमीन की रसीद अथवा अन्य दस्तावेज
  • बैंक पासबुक
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी

बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2021 पंजीकरण प्रक्रिया (Bihar Fasal Sahayata Yojana 2021: Registration Process)

  • योजना के अंतर्गत पंजीकरण करवाने के लिए निम्नलिखित स्टेप्स फॉलो करने होंगे।
  • आवेदक को सबसे पहले योजना के अंतर्गत उपलब्ध करवाएगी आधिकारिक वेबसाइट http://pacsonline.bih.nic.in/fsy/ पर जाना होगा।
  • इसके पश्चात एक होम पेज खुल जाएगा, वहां पर आवेदक को एक रजिस्ट्रेशन फॉर्म दिखाई देगा।
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म में मांगी गई सारी जानकारी जैसे कि नाम, पता, मोबाइल नंबर, आधार संख्या, ईमेल आईडी आदि जमा करने के बाद कुछ डॉक्यूमेंट जैसे कि बैंक पासबुक, जमीन की रसीद, आवासीय प्रमाण पत्र, पासपोर्ट साइज फोटो, पहचान पत्र और आधार कार्ड अपलोड करने होंगे।
  • दस्तावेज अपलोड करने के बाद जो मोबाइल नंबर भरा गया है, उस मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा।
  • ओटीपी संख्या भरने के बाद रजिस्ट्रेशन का बटन दिखाई देगा।
  • बटन को क्लिक करते ही रजिस्ट्रेशन फॉर्म जमा हो जाएगा।
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म जमा होने के बाद एक यूजर आईडी और पासवर्ड प्राप्त हो जाएगा। इसका इस्तेमाल आवेदक अपने अकाउंट के स्टेटस को चेक करने और अकाउंट को लॉगइन करने के लिए कर सकते हैं।

लॉगइन प्रक्रिया

आवेदक यदि लॉगइन करना चाहता है, तो उसे आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

उसके पश्चात यूजर आईडी और पासवर्ड भरना होगा।

यूजर आईडी और पासवर्ड बनने के बाद लॉगइन बटन दिखाई देगा।

लॉगइन बटन को क्लिक करते ही आवेदक का अकाउंट खुल जाएगा।

आवेदन स्टेटस चेक करना

एप्लीकेशन स्टेटस चेक करने के लिए भी लॉगइन करने के पश्चात ट्रेक स्टेटस पर क्लिक करना होगा।

आवेदक को अपनी एप्लीकेशन की सारी स्थिति दिख जाएगी। इससे यह सुनिश्चित हो जाएगा कि आवेदक की पंजीकरण प्रक्रिया के पश्चात आवेदक का चयन कर लिया गया है या नहीं क्योंकि पंजीकरण प्रक्रिया होने के पश्चात विभागीय अधिकारियों द्वारा एक सूची तैयार की जाती है और उसी सूची के अनुसार कृषकों को लाभ पहुंचाया जाता है।

संपर्क (Contact Information)

बिहार राज्य फसल सहायता योजना के लिए आवेदन करने वाले किसानों को यदि किसी भी प्रकार की समस्या आए तो उनके लिए एक हेल्पलाइन नंबर और ईमेल आईडी उपलब्ध करवाई गई है, जहां पर वह संपर्क करके अपनी समस्या का समाधान और अन्य अपडेट प्राप्तकर सकते हैं।

हेल्पलाइन नंबर:– 18003456290

ईमेल आईडी:- kisanreghelp@gmail.com

बिहार में रहने वाले सभी किसानों को इस योजना के तहत पंजीकरण जरूर करवाना चाहिए क्योंकि कभी भी किसी भी प्रकार की आपदा आने की संभावना बनी रहती है और उस आपदा का सामना करते वक्त फसल की बर्बादी होने की आशंका बनी रहती है। यदि पंजीकरण करवा लेते हैं तो कुछ हद तक अवशय किसानों की सहायता हो जाएगी। इससे ना केवल फसल की बर्बादी की भरपाई हो जाएगी बल्कि किसानों का मनोबल भी बढ़ेगा।

बिहार सरकारी योजना 2021सरकारी योजना List 2021प्रधानमंत्री सरकारी योजना 2021

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here